साइकोलॉजी  के अनुसार

आप जिसे प्यार करते हैं आप किसी भी समस्यायों से क्यों ना घिरे हो उस इंसान की थोड़ी सी आवाज भी आपकी समस्यायों को 70% तक कम कर सकती है

साइकोलॉजी  के अनुसार

कभी-कभी प्यार भी एक लत जैसा हो जाता है और लत आपको बर्बाद कर सकती है चाहे किसी की भी हो तो जल्दी से जल्दी इस लत से छुटकारा जरूर पा लें

साइकोलॉजी  के अनुसार

जो आपके दर्द में आपके साथ रोने लगे तो 0% संभावना है की वह इंसान आपको छोड़कर जायेगा शर्त यह है कि वह वास्तव में रो रहा हो दिखावा न कर रहा हो

साइकोलॉजी  के अनुसार

प्रेक्टिकल तौर पर मेहनत करने वाले को ज्यादा समझदार हो जाते है बजाय सिर्फ पढाई लिखाई करके डिग्रियां हासिल करने वाले से

साइकोलॉजी  के अनुसार

जब हमारी किसी से लड़ाई होती है टब हमारा गुस्सा बहुत तेज होता है चाहे गलती अपनी ही क्यों ना हो

साइकोलॉजी  के अनुसार

एक ही प्रोफेसन में काम कर रहे लडके और लड़की को प्यार में एक दूसरे के साथ पड़ने की सम्भावनायें जादा हो जाती हैं

साइकोलॉजी  के अनुसार

हमारे रिश्ते उस समय ज्यादा मजबूत हो जाते हैं जब हम किसी की गलतियों को माफ़ करके उसकी इज्जत करने लग जाते हैं

साइकोलॉजी  के अनुसार

किसी इंसान की ज्यादा केयर करना उस इंसान के दिल और दिमाग से फीलिंग कनेक्शन मजबूत हो जाता है

साइकोलॉजी  के अनुसार

जिस घर में ज्यादा लड़ाई-झगड़े होते हैं, उस घर के बच्चों पर ठीक वैसा ही प्रभाव पड़ता है जैसे युद्ध का सैनिकों पर।

साइकोलॉजी  के अनुसार

सुबह की पहली शुरुआत ही आपके दिमाग को यह संकेत देती है कि आपका दिन कैसा होगा। अगर आपका दिन खराब होता है तो इसमें आपकी गलती नहीं होती बल्कि आपकी सुबह की शुरुआत की होती है।