अर्ध मंडलासन के फायदे , कैसे करें एवं सावधानियां : Ardha Mandalasana Benefits in Hindi

Ardha Mandalasana Benefits in Hindi :   इस लेख में हम जानेंगे कि अर्ध मंडलासन  ( Ardha Mandalasana in Hindi) और उसके फायदे के बारे में । अर्ध मंडलासन का अभ्यास करने से यह आपकी छाती को खोलने में मदद करता है और निचली पसलियां प्रतिरक्षा प्रणाली को उत्तेजित करती हैं और गहरी सांस लेने में मदद करती हैं। तो अब हम आईए जानते हैं अर्ध मंडलासन के फायदे (Half Circle Pose Benefits ) , अर्ध मंडलासन कैसे करें (Ardha Mandalasana Steps ) , अर्ध मंडलासन के सावधानियां ( Ardha Mandalasana Precautions in Hindi )  ,अन्य जानकारी के बारे में । [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

अर्ध मंडलासन क्या है (Ardha Mandalasana in Hindi )

अर्ध मंडलासन जैसा कि नाम से पता चल रहा है हाफ सर्कल पोज ( Half Circle Pose ) एक सरल साइड स्ट्रेचिंग योग पोज है जो छाती को खोलने में सहायता करता है । अर्ध मंडलासन संस्कृत रूप है, संस्कृत में अर्ध का अर्थ “आधा” है और मंडल का अर्थ “वृत्त” , आसन का अर्थ “मुद्रा” से लिया जाता है। जिसमें  पैर  धड़ और भुजाएं अर्ध– गोलाकार आकार बनती हैं। यह आपकी निचली पसलियों को भी खोलता है और गहरी सांस लेने की अनुमति देता है । शारीरिक रूप से यह आपकी थाइमस ग्रंथि को सक्रिय करता है और आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को उत्तेजित करता है। [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

यह लेख भी पसंद आएंगे : शीतक्रम कपालभाति के फायदे , कैसे करें , सावधानियां एवं अन्य जानकारी

अर्ध मंडलासन के फायदे (Ardha Mandalasana Benefits in Hindi )

अर्ध मंडलासन ( Ardha Mandalasana in Hindi ) एक शानदार फ्रंटल बॉडी ओपनर आसन है । छाती का गहरा खुलना फेफड़ों की क्षमता में सुधार करता है और हल्का सा पीछे की ओर झुकना रीढ़ की हड्डी के विघटन को बढ़ावा देता है :

1. अर्ध मंडलासन रीढ़ की हड्डी को खींचकर लचीलेपन में सुधार करता है।

2. गहरा खिंचाव गले को खोलता है और थायराइड ग्रंथि को उत्तेजित करता है, जिससे अंतः स्रावी  कार्य को बढ़ावा मिलता है। [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

3. यह आसान (Half Circle Pose Benefits )   पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है और कब्ज से राहत दिलाता है।

4. यह योग छाती को खोलता है और फेफड़ों में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ता है।

5. अर्ध मंडलासन प्राणायाम ( Ardha Mandalasana Benefits in Hindi )  करने से आप अपने पेट के हिस्से पर दबाव डालते हैं, जिससे अतिरिक्त चर्बी कम करने में मदद मिलती है। [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

6. अर्ध मंडलासन ( Ardha Mandalasana Steps ) करने से रक्त संचार तेज हो जाता है । साथ ही इसे करने से हमारे शरीर के अंदरूनी हिस्सों को आराम मिलता है क्योंकि यह आसन आंतरिक अंगों के मालिश के लिए भी जाना जाता है। [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

अर्ध मंडलासन कैसे करें (Ardha Mandalasana Steps )

1. सबसे पहले जमीन पर चटाई बिछाकर घुटनों के बल खड़े हो जाए।


2. घुटनों को कूल्हे की चौड़ाई तक खोलें। आपको यह ध्यान रखना है कि आपके पैर घुटनों के समांतर हो।

3. अब अपने बाएं पैर को बगल की ओर फैलाएं और पैर के तवे को फर्श पर सपाट रखें, ऐसा करते समय पर की उंगलियां आगे की ओर हो।

4. अब अपने शरीर को दाहिने और मोड़ते हुए, अपने दाहिने हाथ को अपने दाहिने घुटने के ठीक बगल में फर्श पर रखें।

5. अब अपने बाएं हाथ को अपने सिर की ओर उठायें , ध्यान रखें की दाहिनी हाथ फर्श पर टिकी हुई हो।

6. बाएं हाथ को अपने विस्तारित पैर और धड़ के बराबर कोण पर ले जाएं और बाएं हाथ से आधा घेरा बनाएं, ऐसा करते समय बाई हथेली फर्श की ओर हो।

7. बाएं हाथ की उंगलियों को देखने के लिए अपना सिर घुमाए , अपनी बाई हथेली को सीधा देखें और इस मुद्रा में स्थिर रहे।

8. बाहर आने के लिए धीरे-धीरे अपने बाएं हाथ को नीचे लाएं और फिर अपने दाहिने हाथ को फर्श से हटा लें और फिर से घुटने की स्थिति में बैठ जाएं।

9. इस आसन ( Ardha Mandalasana Steps )  को इसी तरीके से दूसरी तरफ भी दोहराए।

अर्ध मंडलासन की सावधानियां (Ardha Mandalasana Precautions in Hindi)

वैसे तो यह आसान आसानी से किया जा सकता है, लेकिन आपको किसी भी तरह की परेशानी महसूस होती है तो आप इस आसन को विशेषज्ञ की देखरेख में करें या फिर सावधानी के साथ आगे बढ़े।

1. अगर आपको इन किसी में से कूल्हे, घुटने, गर्दन या पीठ के निचले हिस्सों में सर्जरी हुई हो तो इस आसन ( Half Circle Pose Benefits )  को करने से बचें।

2. क्रोनिक माइग्रेन जैसी बीमारी होने पर भी इस आसन को करने से बचे।

3. हर्निया के मरीज को इस आसन से परहेज करना चाहिए।

4. पैर में चोट या सूजन होने पर इस प्राणायाम ( Ardha Mandalasana Steps ) को करने से  बचना  चाहिए।

निष्कर्ष  (Conclusion)

अर्ध मंडलासन ( Ardha Mandalasana in Hindi ) एक बेहतरीन आसान है। इसके अनेक लाभ हैं। जिससे शरीर के कई बीमारियों से राहत पाया जा सकता है। अर्ध मंडलासन जिसे हाफ सर्कल पोज (Half Circle Pose Benefits ) के नाम से भी जाना जाता है, जो एक सुलभ साइड स्ट्रेचिंग और छाती खोलने वाला प्राणायाम है और कई अन्य प्रकार की गंभीर समस्याओं को खत्म करने में अर्ध मंडलासन (Ardha Mandalasana Steps) का नियमित अभ्यास करने पर काफी लाभप्रद होता है। अगर इस आसन को गलत तरीके से किया जाए तो नुकसान भी हो सकता है। [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

              हम आपसे यही आशा करते हैं कि हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख अर्ध मंडलासन के फायदे (Ardha Mandalasana Benefits in Hindi) पसंद आई होगी। इस लेख में हमने अर्ध मंडलासन के फायदे के बारे में,और अर्ध मंडलासन की सावधानियों ( Ardha Mandalasana Precautions in Hindi ) के विषय में जाना। अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल पूछना हो या फिर अपनी राय देनी हो, तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं । हमसे जुड़ने के लिए हमारे सोशल मीडिया पेज को फॉलो कर सकते हैं। [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

Disclaimer : यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है और किसी भी स्वास्थ्य संबंधी सलाह की जगह नहीं है। ज्ञानी वेब इसकी पुष्टि नहीं करता, किसी भी चिकित्सा निर्णय उपचार डाइट इत्यादि का निर्णय लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें । [Ardha Mandalasana Benefits in Hindi]

यह लेख भी पसंद आएंगे :नाभि पीड़ासन के फायदे, कैसे करें एवं अन्य जानकारियां

Leave a Comment